बहुमुखी प्रतिभा के धनी सितारवादक समीप कुलकर्णी

समीप कुलकर्णी भारतीय शास्त्रीय संगीत कर एक उभरता हुआ सितारा है । पेशे से एक सोफ्टवेयर इंजिनियर तथा सितारवादक समीप ने हाल ही में श्रीरंग कलानिकेतन , तलेगांव द्वारा आयोजित पण्डित राम मराठे स्मृति संगीत प्रतियोगिता पुणे में भाग लेकर पुणे स्तर पर तथा राज्य स्तर पर पुरस्कार जीता है। अब तक १७ पुरस्कार और तीन सम्मान प्राप्त करने वाले समीर ने ६ साल की उम्र से तबला तथा ८ साल की उम्र से सितार बजाना शुरू कर दिया था

समीप एक ऐसे परिवार से है जिसके रक्त में संगीत बहता है। उनके पिता एक गणितज्ञ तथा एक वायोलिन वादक है।

समीप फिलहाल पुणे के Jopasana CoreObjects में सॉफ्ट वेएर इंजिनियर है।

'स्वरगंगा' की से समीप को बधाई और उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनायें ......
समीप के बारे में अधिक यहाँ देख सकते है

0 comments:

Blogger template 'BrownGuitar' by Ourblogtemplates.com 2008